कानपुर-हत्याओं से दहला शहर मामूली विवाद में पीट पीटकर कर दी हत्या
Updated Date:09 Jul 2016 | Publish Date: 09 Jul 2016
हत्याओं से दहला शहर, मामूली विवाद में पीट-पीटकर कर दी हत्या।

-शिवराजपुर में शादी समारोह में शरीक होने गये युवक की मामूली विवाद में नशेबाजों  ने बेरहमी से पीटा, पेट की आंते फटी मौत।

-सीसामऊ में युवक को छत से फेंका हत्या का आरोप, नबावगंज में लापता युवक का संदिंग्ध परिस्थिति में रोड किनारे पड़ा मिला शव।

कानपुर- शहर में अपराधियों के हौसले बुलंद हो चुके हैं। लूट व हत्याओं का सिलसिला बदस्तूर जारी हैं। ताबड़तोड़ तीन हत्याओं से पुलिस अफसरानों की नींद उड़ गयी। पहली घटना शिवराजपुर गांव की हैं। एक शादी समारोह में शरीक होने गये एक युवक की नशेबाज युवकों ने मामूली विवाद के चलते जमकर पिटाई कर दी। पिटाई के दौरान युवक के पेट की आंतें फट गयी। हैलट में इलाज के दौरान युवक की मौत हो गईं। वहीं दूसरी घटना सीसामऊ इलाके की हैं। यहां युवक को छत से फेंक दिया गया। परिजनों ने हत्या की आशंका जताते हुए पोस्टमार्टम हाउस में हंगामा व नारेबाजी की हैं। तीसरी घटना नबावगंज इलाके की हैं। गुरुवार देर रात से लापता एक युवक का शव संदिग्ध परिस्थितियों में रोड किनारे पड़ा मिला। घटनाओं की जानकारी पाकर मौके पर पहुुंची पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया हैं।
केस-1
मामूली विवाद में पीट-पीटकर कर दी हत्या
घाटमपुर के हिरनी पतारा गांव निवासी बिंद्रा प्रसाद का बेटा हीरालाल (45 साल) किसानी करता था। हीरालाल के दो बेटे प्रशांत, अजीत और बेटी सृष्टि हैं। पत्नी राजदुलारी ने बताया कि 6 जुलाई को हीरालाल बहनोई राम सजीवन के बेटे रसपाल की शादी में शरीक होने के लिये शिवराजपुर गांव गये हुए थे। बारिश होने की वजह से हीरालाल वहीं गांव में ठहर गये थे। देर रात बरामदे में चारपायी बिछाने को लेकर हीरालाल का विवाद शादी में शरीक होने आये वीरेन्द्र और सरोज से हो गया। पत्नी राज दुलारी ने बताया कि दोनों युवक नशे में धुत थे। नशेबाज युवकों ने हीरालाल के साथ गाली गलौज करनी शुरू कर दी। विरोध करने पर दोनों युवकों ने हीरालाल की लाठी-डंडे व सरिया से बेरहमी से पिटाई कर दी।
पेट की आंत फट जाने से हुईं युवक की मौत
पिटाई के दौरान हीरालाल के पेट की आंते फट गयी जिससे वह अचेत होकर वहीं बरामदे में गिर पड़े। हीरालाल की हालत बिगड़ती देख दोनों युवक वहां से भाग निकले। इधर परिजनों ने गंभीर रुप से घायल हीरालाल को इलाज के लिये आनन-फानन हैलट अस्पताल में भर्ती कराया, जहां  इलाज के दौरान गुरुवार देर रात उनकी मौत हो गईं। परिजनों  ने दोनों नशेबाज युवकों के खिलाफ हत्या की तहरीर दी हैं। पुलिस ने वीरेन्द्र और सनोज की तलाश शुरू कर दी हैं। पुलिस का कहना हैं कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर हत्या के कारण सही पता चल सकेगा। पुलिस फरार दोनों युवक की तलाश में छापेमारी कर रही हैं।
केस-2
छत से फेंका, हत्या की आशंका
रायपुरवा के आचार्य नगर इलाका निवासी मनोज गौतम (45 साल) कानपुर टेनरी कंपाउंड में अनील रस्तोगी के गोदाम  में नौकरी करता था। मनोज का इकलौता बेटा मनजीत (20 साल) और पत्नी ज्ञानवती हैं। मनजीत ने आरोप लगाया हैं कि उसके पिता गोदाम में नौकरी करते हैं। गुरुवार देर रात उन्हें उनके साथियों ने छत से धक्का दे दिया जिससे उनकी मौत हो गईं। जब तक परिजनों को घटना की जानकारी मिली मनोज की मौत हो चुकी थी। परिजनों ने हत्या कर शव छत से फेंके जाने की आशंका जतायी हैं। घटना की जानकारी पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया हैं।
केस-3
नबावगंज में लापता युवक का संदिग्ध पस्थितियों में पड़ा मिला शव
मूलरुप से फतेहपुर निवासी गिरधारी गौतम का बेटा रामबाबू (45 साल) नबावगंज स्थित जागेश्वर मंदिर के पास किराये के मकान में रहता था। घर में पत्नी रुपरानी और राहुल सहित चार बेटे हैं। बेटे राहुल  ने बताया कि उसके पिता रिक्शे के मिस्त्री थे। सुबह काम पर जाने की बात कहकर घर से निकले थे। देर रात तक घर नही लौटे तो उनकी तलाश की गई पर उनके संबंध में कोई जानकारी हासिल नहीं सकी। घबराये परिजनों ने घटना की जानकारी कंट्रोल रुम फोन कर पुलिस को दे दी। सुबह पुलिस को युवक का संदिग्ध परिस्थितियों में शव विष्णुपुरी रोड पर पड़ा मिला। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया हैं। पुलिस का कहना हैं कि अगर परिजन कोई तहरीर देते हैं तो कार्यवाही की जायेगी।  
-------------------------