होम > देश > आपकी ख़बर

#पीएम मोदी के बर्थडे पर बाँटा गया 500 किलो का लड्डू
Updated Date:17 Sep 2016 | Publish Date: 17 Sep 2016
पीएम के बर्थडे पर बांटा गया 500 किलो का लड्डू

अपने जन्मदिन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भले ही शनिवार को गुजरात में अपनी मां के साथ रहे लेकिन देश के अलग-अलग हिस्सों में उनके जन्मदिन के मौके पर कई कार्यक्रमों के आयोजन किए गए. दिल्ली के मावलंकर सभागार में 500 किलोग्राम का लड्डू बांटकर जन्मदिन का जश्न मनाया गया. सुलभ इंटरनेशनल ने इसका आयोजन किया. 

रेल मंत्री सुरेश प्रभु, जूना अखाड़ा के आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरी, बीजेपी नेता तरुण विजय और अहमदाबाद के गांधी कॉरपोरेशन के एमडी हेमू गांधी ने सबसे पहले जन्मदिन के लड्डू का स्वाद चखा.

सेवा दिवस मनाना नए बदलाव का सूचक
रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा कि 17 सितंबर को सेवा दिवस के रूप में मनाना नई सोच और नए बदलाव का सूचक है. सेवा के जरिए उनको बधाई देना सबसे उत्तम है. स्वच्छता में भगवान है तो यही पूजा होनी चाहिए और यही प्रसाद.

सफाई पर ध्यान दे रहा रेलवे
रेल मंत्री ने कहा कि हमने पूरा ध्यान रेल की सफाई पर लगाया है. सुलभ इंटरनेशनल के साथ सहयोग पर जोर देते हुए उन्होंने बड़े हल्के अंदाज में कहा कि हम रेल और सुलभ का ब्याह करने की सोच रहे हैं. इससे रेल में सफाई का काम आसान हो जाsगा. रेल मंत्री ने कहा कि हम कौन से अंधेरे युग में हैं जहां महिलाओं को शौच जाने के लिए अंधेरा होने का इंतजार करना पड़ता है. ये अंधकार दूर हो.

 
कार्यक्रम में महिलाओं को मिला सम्मान
मंगल शंख ध्वनि वैदिक कल्याण मन्त्रों की अनुगूंज के बीच इस कार्यक्रम की शुरुआत हुई. इस मौके पर विभिन्न क्षेत्रों से जुड़ीं पांच विशिष्ट महिलाओं को सम्मानित भी किया. इन लोगों ने स्वच्छता अभियान को नारे से आगे ले जाकर जीवन में उतारा और जीवन की अभिनव शैली बनाया.

स्वच्छ भारत अभियान को इन महिलाओं ने दी नई सोच
जिन महिलाओं का इस अवसर पर सम्मान किया गया उनमें स्वच्छता दूत के रूप में अनीता बाई नरे का नाम है. अनीता ने ससुराल में शौचालय न होने से ससुराल जाने से मना कर दिया था. सविता देवी ने शौचालय न होने से तलाक तक की अर्जी दे दी थी. बाद में सब झुके. शौचालय भी बना.

महिलाओं को किया जागरूक
मनोरानी देवी ने सार्वजनिक शौचालय के लिए अपनी जमीन का एकमात्र टुकड़ा दान कर दिया. प्रियंका भारती स्वच्छता मिशन की ब्रांड एम्बेसडर हैं. विद्या बालन के जहां सोच वहां शौचालय के विज्ञापन में भी प्रियंका साथ हैं. एक और स्वच्छता दूत प्रियंका राय ने भी जीवन का मिशन स्वच्छता और शौचालय के निर्माण को बना लिया है. आसमा परवीन को भी सम्मानित किया गया क्योंकि इन्होंने भी समाज के पिछड़े वर्ग की महिलाओं को जागरूक किया है.

इस समारोह में पीएम मोदी के जन्मदिन पर जो बधाई गीत गाया गया उसे लिखा भी सुलभ इंटरनेशनल के संस्थापक डॉ. बिंदेश्वर पाठक ने