Kanpur-यूपी पुलिस के दरोगा की बेशर्म करतूत, युवती को अश्लील मैसेज भेजने और छेड़छाड़ के आरोप में दरोगा के खिलाफ मुकदमा दर्ज
Updated Date:23 Jul 2017 | Publish Date: 23 Jul 2017
यूपी पुलिस के दरोगा की बेशर्म करतूत, युवती को अश्लील मैसेज भेजने और छेड़छाड़ के आरोप में दरोगा के खिलाफ मुकदमा दर्ज।*

*👉पूर्व में भी दरोगा पर युवती के यौन शोषण का मुकदमा हो चुका है दर्ज। खुद को यादव परिवार का बताता है रिश्तेदार..*

*अभय त्रिपाठी✍सम्पादक*

कानपुर-पुलिस रक्षक नहीं भक्षक बन चुकी है। शहर में पूर्व में तैनात एक दरोगा ने पहले तो एक युवती को अपने जाल में फांसकर यौन शौषण करता रहा। अब दूसरे जिला में तैनात होने के बाद अश्लील मैसेज और वीडियों भेज रहा है। युवती ने दो दिन पहले डीआईजी सोनिया सिंह के कार्यालय में अपनी फरियाद सुनाई। रोते बिलखते पीड़िता बोली मैडम मुझे इस दरोगा से बचा लीजिए। पहले तो इसने मेरी आबरू लूटी अब अश्लील मैसेजों और धमकियों से परेशान कर रहा है। उसने झांसी से फोन करके मुझे अगवा कराने की भी धमकी दी है।
*आपको बताते चले ये* सनसनीखेज मामला है यूपी के कानपुर का यहाँ आरोप लगे है एक दरोगा पर जिसने कानून को अपनी जागीर समझ लिया और उसकी आड़ में खुद एक संगीन जुर्म को अंजाम देता चला गया। शादी के नाम पर सालों तक शारीरिक शोषण और अपनी पत्नी को तलाक देने का झांसा और फिर पुलिस थाने के अंदर हैविनियत वो नंगा नाच कर चुका है जिसका नाम है उदय प्रताप यादव जो पूर्व में कानपुर में तैनात था और अब झाँसी में पोस्ट है। 

जहाँ कहने को तो वो एक पुलिस वाला है लेकिन उसके अंदर छुपा है एक शैतान वो शैतान जिसने एक इंसान की जिन्दगी बर्बाद कर दिया उसे असीम ज़िन्दगी के सपने दिखाये शादी का वादा किया सालों तक शारीरिक शोषण किया और अब अश्लील मैसेज कर उसे बदनाम करने की धमकी दे रहा है।

*"इंशान की फ़ितरत में जब फ़रेब शामिल हो तो उसकी हर चाल धोखे से भरी होती है लेकिन समझने वाले भी जब अपनी चाहत की चाह में नासमझ बन जाये तो वो बनते है शिकार"*

बर्बादी की ये कहानी शुरू हुई थी आज से 4 साल पहले सीसामऊ की रहने वाली ये पीड़ित युवती बीएससी की पढ़ाई कर रही थी नई उमंगों के साथ इसने नई उम्र में कदम तो रख दिया लेकिन ये नहीं जानती थी की इसकी जिन्दगी आने वाले वक्त में किस रफ़्तार से आगे बढ़ेंगी।

बर्बादी की ये कहानी की शुरुआत भी एक वारदात से शुरू हुई थी जब पीड़ित के साथ लूट और छेड़छाड़ की एक वारदात हुई जिसकी शिकायत लेकर वो पहुँची थी थाना सचेंडी यहाँ इसकी मुलाकात हुई तत्कालीन एसो सचेंडी से एसो उदय प्रताप यादव ने पीड़ित को कार्यवाही का आश्वाशन देकर पीड़ित का नम्बर ले लिया वो नही जानती थी की इसकी नियत में खोट है ईमान में फ़रेब है और इरादों में हैविनियत की एक भूख है एसो साहब उसका नम्बर लेकर उससे फ्लर्ट करने लगे और एक दिन युवती को थाने बुलाकर उसे चैन रिकवर करवा दिया बस फिर शुरू हुआ मुलाकातों का सिलसिला एसो अपने इरादों में कामयाब हो इसलिये उसने एक और चाल चली पीड़ित को पूरी तरह अपने झांसे में लेने के लिये अपनी शादी की बात तो बतायी लेकिन पत्नी के चरित्र पर सवाल उठाते हुये ये झांसा दिया की जल्दी ही पत्नी से तलाक लेकर छात्रा शादी कर लेगा।
*कहते है की अक्ल भी उम्र और अनुभव के साथ आती है युवती की शादी की चाहत और सामने से मिली धोखे की बेइन्तहा मोहब्बत में वो खुद इतनी फंसती चली गयी की जब उसे होश आया तो उसके कदमो तले ज़मीन खिसक चुकी थी।*
थाने की सिपाही उसे शहर के नामचीन होटलों में ले जाते थे जहाँ उदय प्रताप महँगे तौफे लेकर उसका इंतजार कर रहा होता था युवती को लगा की अगर इस दिल के मारे मरीज को सहारा देगी तो वो उससे शादी कर लेगा लेकिन ऐसा हुआ नहीं 3 साल तक छात्रा का भावनत्मक और शारीरिक शोषण के बाद जब उदय प्रताप का तबादला काकादेव के बाद थाना नवाबगंज हो गया तो उसने अपनी पत्नी को पास बुला लिया और युवती से दूरियां बना ली एक दिन युवती नवाबगंज थाने पहुंच गई तो उदय प्रताप ने उसे थाने में दौड़ा-दौड़ाकर पीटा। तब युवती ने उसी थाने में एसओ उदय के खिलाफ यौन शोषण समेत कई धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। एसओ उदय को तत्काल संस्पेंड करके जिले के बाहर भेज दिया गया था। उसके बाद सत्ता और पुलिस के दबाव के चलते पीड़िता ने मामले में दरोगा से समझौता कर लिया था।

*दरोगा ने पीड़िता को फोटो और वीडियों को वायरल करने दी धमकी*

कुछ दिनों से झांसी से बैठकर दरोगा उदय प्रताप सिंह पीड़िता छात्रा को अश्लील फोटो और वीडियों भेजकर ब्लैकमेलिंग और धमकी दे रहा है। उसने लड़की से कहा कि उसके पास मौजूद फोटो और वीडियों को वायरल कर देगा। इतना ही नहीं अगर वह उससे मिलने के लिए झांसी नहीं पहुंची तो वह उसे कानपुर से ही उठवा लेगा। डरी सहमी छात्रा बीते कई दिनों से एसएसपी के दफ्तर के चक्कर काटती रही। खुद की सिक्योरिटी के लिए पुलिस कर्मियों की मांग की। तब जाकर एसएसपी के आदेश पर शुक्रवार को सीसामऊ थाने में दरोगा उदय प्रताप सिंह के खिलाफ आईटी एक्ट और छेड़छाड़ की रिपोर्ट दर्ज की गई है।

*एक युवती की जिंदगी ईधर बर्बाद हो चुकी है उधर खाकी फिर दाग़दार हो चुकी है।*

हो सकता है कुछ दिनों बाद आरोपी दरोगा उदय प्रताप को भी उसके करें कि सजा मिल जाये वो सलाखों के पीछे हो लेकिन सवाल खाकी के पीछे छुपे उन भेड़ियों को लेकर है जो उसे लगातार इसे दागदार कर रहे है और पूरा महकमा उनके किये पर पर्दा डालता रहता है। 
देखना है की खाकी कैसे अपने दामन में लगे दाग धोती है? और कैसे आम जनता में वर्दी का विश्वास जगाती है?
*www.kncuplive.com*